शिक्षकों के विभिन्न समस्याओं को लेकर संघ ने की वार्ता

मोहम्मद शाहनवाज अता (वैशाली) : परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ जिला इकाई वैशाली का एक प्रतिनिधिमंडल जिला शिक्षा विभाग वैशाली के कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना से मुलाकात करके शिक्षकों की समस्या पर वार्ता की।प्रतिनिधिमंडल की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष दिनेश पासवान ने की उनके साथ कोषाध्यक्ष इंद्रदेव महतो, जिला संयोजक मनौवर अली नूरानी, जिला वरीय सचिव नवनीत कुमार, हाजीपुर प्रखंड अध्यक्ष राजू रंजन चौधरी, हाजीपुर प्रखंड संयोजक अमरेंद्र कुमार, रौशन कुमार उपस्थित रहे।जिला अध्यक्ष दिनेश पासवान ने शिक्षकों की समस्या से अवगत कराते हुए कहा कि 15% वेतन वृद्धि के साथ वेतन निर्धारण हेतु,सेवा पुस्तिका प्रविष्टि करने के संबंध में जिले में शिक्षकों के बीच असमंजस की स्थिति है।

पूर्व में राज्य द्वारा विभागीय आदेशानुसार आवश्यक दिशा निर्देश जारी करते हुए वेतन निर्धारण हेतु ऑनलाइन कैलक्युलेटर के माध्यम से विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए प्रपत्र के आधार पर ही किया जाना था। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के ई-सिग्नेचर द्वारा प्राप्त वेतन निर्धारण प्रपत्र को ही सेवा पुस्तिका में संलग्न करना था।इसी बीच जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना, वैशाली द्वारा पत्रांक 415 दिनांक 24.11. 2022 को एक पत्र निर्गत किया गया जिसमें लिखा गया है कि हस्तलिखित सेवा पुस्तिका निर्धारण के लिए भेजा जाना है। इस पर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना वैशाली ने स्पष्ट करते हुए सभी शिक्षकों को आश्वस्त किया की कुछ शिक्षकों ने आग्रह किया था कि प्रिंट किए गए वेतन निर्धारण प्रति ज्यादा दिनों तक टिक नहीं पाएगा इसलिए वैकल्पिक व्यवस्था भी की जाए। इसलिए ऐसा पत्र जारी किया गया था।यह अनिवार्य नहीं है।

उन्होंने कहा ऑनलाइन कैलक्युलेटर के माध्यम से विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए प्रपत्र पूर्ण रूप से मान्य है। जिला वरीय सचिव नवनीत कुमार ने कहा कि हर माह ई०पी०एफ की राशि शिक्षकों के वेतन से कटौती होती है।जिला द्वारा सितंबर माह 2022 तक शिक्षकों के वेतन से कटौती हो चुकी है।जबकि शिक्षकों के ई०पी०एफ खाते में जून माह तक का ही राशि जमा हुआ है। इससे शिक्षकों के ई०पी०एफ खाते में ब्याज की आर्थिक क्षति हो रही है।इसे जल्द निराकरण किया जाए। उन्होंने कहा की इंटरमीडिएट एवं मैट्रिक परीक्षा में शिक्षकों को वीक्षण कार्य में लगाया जाता है। उन्होंने माँग करते हुए कहा कि शिक्षकों को उनके नजदीकी प्रखंड में वीक्षण कार्य मे लगाया जाय ताकि शिक्षकों को कोई परेशानी ना हो। साथ ही शिक्षकों के डी.पी.ई एवं डीएलएड प्रशिक्षित शिक्षकों का अंतर वेतन राशि, दक्षता का अंतर वेतन, चिकित्सा अवकाश,bडीए आदि जैसे लंबित सभी बकाया राशि का भुगतान अविलंब किया जाए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Russia Ukraine War: रूस ने पूरे यूक्रेन में मिसाइलों और ड्रोनों से किए लगातार हमले, 11 लोगों की मौत